Vastu Tips: घर में इन तीन जगहों का रखें विशेष ध्यान, एक गलती से होगी दरिद्रता

जीवन में सुख और शांति के लिए वास्तु बहुत जरूरी है। अगर आपका वास्तु सही है तो छोटी-छोटी बातें आपको कभी परेशान नहीं करेंगी

अगर पैसा आपके पास आता है लेकिन आते ही चला जाता है। लाख कोशिशों के बाद भी  आप चाहकर भी अपना पैसा नहीं जोड़ पा रहे हैं। तो आपको यह समझने की जरूरत  है कि आप वास्तु के नियमों का पालन कर रहे है या नहीं |

अगर आप समय रहते अपने घर के वास्तु दोषों पर ध्यान नहीं देंगे तो आप  धीरे-धीरे दरिद्रता की ओर बढ़ेंगे। आप चाहें तो भी अपना पैसा खर्च करना बंद  नहीं कर पाएंगे।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसका कारण आपके घर का वास्तु दोष है। घर के अंदर की कमी के कारण आप कंगाली का  शिकार हो सकते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के तीनों कोने बेहद खास  होते हैं। जिन्हें आर्थिक तंगी और कंगाली से जोड़कर देखा जाता है।

आपके घर की उत्तर दिशा – वास्तु शास्त्र के अनुसार उत्तर दिशा में कुबेर  देवता का वास होता है। ऐसा माना जाता है कि इस दिशा को वास्तु दोषों से  मुक्त रखना बहुत जरूरी है। आर्थिक कार्यों के लिए यह दिशा शुभ मानी जाती  है। अगर आपके घर की उत्तर दिशा में गंदगी है तो कुबेर देवता आपके घर से  नाराज हो जाएंगे। इससे घर में दरिद्रता आती है।

पानी की टंकी – घरों में इस्तेमाल होने वाली पानी की टंकी को रखने के लिए  वास्तु में एक दिशा चुनी गई है। अगर आपके घर का तालाब दक्षिण-पूर्व दिशा  में है तो वास्तु शास्त्र में इसे अच्छा नहीं माना जाता है। इस दिशा को  अग्नि दिशा माना जाता है और अग्नि और जल के संयोग से वास्तु दोष उत्पन्न  होते हैं।

शौचालय – आज के शौचालय एक से बढ़कर एक हैं। लेकिन अगर इनका निर्माण वास्तु  के अनुसार नहीं किया गया तो काफी नुकसान उठाना पड़ता है। वास्तु शास्त्र के  अनुसार शौचालय के लिए दक्षिण और पश्चिम दिशा को बेहतर माना जाता है। यदि  घर में शौचालय उत्तर-पूर्व दिशा में बना हो तो व्यक्ति को धन की प्राप्ति  होने लगती है और उसमें रखा धन समाप्त होने लगता है।