PPF में सरकार ने किए 5 बड़े बदलाव, निवेश करने से पहले जानना जरूरी

PPF 5 big Changes made by Government : पीपीएफ में निवेश करने से पहले आपको अतीत में हुए बदलावों के बारे में पता होना चाहिए। ये बदलाव सरकार द्वारा समय-समय पर किए जाते हैं। आइए जानते हैं ऐसे 5 बदलाव, जो सरकार ने किए थे।

PPF

PPF : अगर आप भी पीपीएफ में निवेश करते हैं तो यह खबर आपके काम की है। इस बार पीपीएफ खाते में किसी भी तरह का निवेश करने से पहले आपके लिए इन नियमों को जानना जरूरी है। सरकार द्वारा समय-समय पर छोटी बचत योजनाओं के नियमों में बदलाव किया जाता है। ऐसे में आपके लिए इन बदलावों के बारे में जानना जरूरी है।

कभी-कभी होते हैं बड़े बदलाव

सरकार द्वारा किए गए ये बदलाव कभी छोटे तो कभी बड़े होते हैं। पिछले दिनों हमने आपको सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में किए गए बदलावों की जानकारी दी थी। इसी तरह सरकार ने भी पीपीएफ के कुछ नियमों में बदलाव किया है। यहां हम आपको पीपीएफ से जुड़े 5 बदलावों के बारे में बताएंगे।

PPF पर ऋण नियम

अगर आप किसी पीपीएफ खाते पर लोन लेना चाहते हैं तो आवेदन की तारीख से दो साल पहले खाते में पीपीएफ बैलेंस के 25 फीसदी पर ही लोन ले सकते हैं. इसे आसान भाषा में समझा जा सकता है कि आपने 31 मार्च 2022 को लोन के लिए आवेदन किया था। इससे दो साल पहले (31 मार्च, 2020) अगर पीपीएफ खाते में 1 लाख रुपये थे, तो आप इसका 25 प्रतिशत यानी 25 प्रतिशत प्राप्त कर सकते हैं। हजार ऋण।

ब्याज दर में कमी

अगर आप पीपीएफ अकाउंट में बैलेंस पर लोन लेते हैं तो ब्याज दर 2 फीसदी से घटाकर 1 फीसदी कर दी गई है. ऋण की मूल राशि का भुगतान करने के बाद, आपको दो से अधिक किश्तों में ब्याज का भुगतान करना होगा। ब्याज की गणना हर महीने की पहली तारीख से की जाती है।

15 साल बाद भी जारी रहेगा पीपीएफ खाता

अगर आप 15 साल बाद निवेश करने के इच्छुक नहीं हैं, तो आप इस समय सीमा के बाद बिना निवेश के अपना पीपीएफ खाता जारी रख सकते हैं। आप पर 15 साल बाद पैसा जमा करने की कोई बाध्यता नहीं है। मैच्योरिटी के बाद अगर आप पीपीएफ अकाउंट को एक्सटेंड करने का विकल्प चुन रहे हैं, तो आप एक वित्तीय वर्ष में केवल एक बार ही पैसा निकाल सकते हैं।

खाता खोलने के लिए इस फॉर्म को भरें

पीपीएफ खाता खोलने के लिए अब फॉर्म-ए की जगह फॉर्म-1 (फॉर्म-1) जमा करना होगा। 15 साल बाद (जमा के साथ) पीपीएफ खाते को मैच्योरिटी से एक साल पहले बढ़ाने के लिए फॉर्म एच के बजाय फॉर्म-4 में आवेदन करना होगा।

राशि महीने में एक बार जमा की जा सकती है

50 रुपये के गुणकों के लिए पीपीएफ खाते में निवेश जरूरी है। यह रकम सालाना कम से कम 500 रुपये या इससे ज्यादा होनी चाहिए। लेकिन पीपीएफ खाते में आप पूरे साल में 1.5 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। इस पर ही आपको टैक्स छूट का लाभ मिलता है। इसके अलावा आप पीपीएफ खाते में महीने में एक बार ही पैसा जमा कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें : पोस्ट ऑफिस की धांसू योजना ! 10 हजार लगाएं और 16 लाख रुपए पाएं ; जानिए डिटेल्स

Leave a Comment